Reduced price! त्यौहार मनानेकी उचित पद्धतियां एवं अध्यात्मशास्त्र View larger

त्योहार मनानेकी उचित पद्धतियां एवं अध्यात्मशास्त्र

New product

Tyohar mananeki uchit padhatiyan evam adhyatmashastra : (Hindi)

More details

19 Items

Download

INR 67.00

-INR 8.00

INR 75.00

INR 67.00 per 1

Add to wishlist

Data sheet

Compilers :परात्पर गुरु डॉ. जयंत बाळाजी आठवले, पू. संदीप गजानन आळशाी
Number Of Pages72
ISBN Number978-93-84461-98-0

More info

त्योहार एवं उत्सवके गूढार्थ एवं शास्त्रका बोध होनेसे वे अधिक श्रद्धापूर्वक मनाए जा सकते हैं; इसलिए इस ग्रंथमें गूढार्थ एवं शास्त्र प्रस्तुत करनेपर विशेष बल दिया गया है । प्रादेशिक भिन्नता, जनजीवन, उपासनाकी पद्धतियां आदिके कारण त्यौहार, उत्सव मनानेकी प्रथाओंमें भेद पाए जाते हैं । यहांपर महत्त्वपूर्ण बिंदु यह है कि शास्त्रीय आधारहीन पर्वोंको केवल लौकिक प्रथाके रूपमें मनाना अनुचित है । इन लौकिक प्रथाओंको त्यागकर शास्त्रसम्मत कृति करना आवश्यक होता है । व्रतोंके संदर्भमें, उनके पीछे किसी उन्नत पुरुषका संकल्प होता है, यही उसका अध्यात्मशास्त्रीय आधार है ।

11 other products in the same category: