भगवान शिवकी उपासनाका अध्यात्मशास्त्र

90 81

शास्त्र समझकर किए उचित कृत्योंसे उपासकको उस देवताके तत्त्वका अधिकाधिक लाभ लेनेमें सहायता होती है।
इस दृष्टिकोणसे प्रस्तुत ग्रंथमें शिवपूजनके पूर्व पूजक स्वयंको भस्म कैसे लगाए, शिवके सामने कौनसी रंगोली बनाए, शिवको कौनसे फूल कितनी संख्यामें चढाएं, उसे किस सुगंधकी अगरबत्ती दिखाएं, किस सुगंधका इत्र शिवजीको अर्पण करें आदिका विवेचन किया है ।

Index and/or Sample Pages

In stock