विकारानुसार नामजप-उपचार (देवताओंका जप, बीजमन्त्र, अंकजप इत्यादि)

90 81

ग्रन्थके इस भागमें ३०० से अधिक शारीरिक और मानसिक विकारोंपर विविध उपचारी नामजप एक ही दृष्टिक्षेपमें समझमें आएं, इसलिए सूचीके रूपमें दिए हैं ।
इनमें प्रमुखरूपसे देवताओंके नामजप हैं ।
इस ग्रन्थमें अगले चरणके शब्दब्रह्म (गायत्री मन्त्रके शब्दोंके नामजप), अक्षरब्रह्म (देवताका तत्त्व / शक्तियुक्त अक्षरोंके नामजप), बीजमन्त्र और अंकजप भी दिए हैं ।
किसी व्यक्तिकी प्रकृति, पूर्वजन्म अथवा इस जन्म की साधना, आध्यात्मिक स्तर आदिका विचार करनेपर उसके लिए अगले चरणका नामजप भी उपयुक्त सिद्ध हो सकता है ।

In stock