गुरुकृपायोगकी महिमा

85 77

ईश्‍वरप्राप्ति के लिए कर्मयोग, भक्तियोग, ध्यानयोग, ज्ञानयोग आदि विविध योगमार्ग (साधनामार्ग) हैं।
इनमें एक है गुरुकृपायोग, जिसमें सभी योगमार्गोंका समावेश है।
इसीलिए, गुरुकृपायोगानुसार साधना करनेवाले साधकको किसी विशेष साधनामार्गका आश्रय नहीं लेना पडता, उसकी आध्यात्मिक उन्नति सहज, सर्वांगीण और दूसरे योगमार्गोंकी तुलनामें शीघ्र होती है। इसलिए, गुरुकृपायोगको ईश्‍वरप्राप्तिका सर्वश्रेष्ठ सहजयोग भी कहा गया है।

In stock